Tag Archives: hacking

साइबर अटैक को लेकर एसटीएफ अलर्ट, गाइडलाइन जारी

​देहरादून, [जेएनएन]: दुनिया के 99 देशों में हुए साइबर अटैक के बढ़ते दायरे को देखते हुए उत्तराखंड एसटीएफ भी अलर्ट हो गई है। एसटीएफ ने सूबे को इस साइबर हमले से सुरक्षित रखने की तैयारी भी शुरू कर दी है, जिसके तहत पुलिस मुख्यालय के माध्यम से सभी जिलों को कंप्यूटर व इंटरनेट प्रयोग करते समय क्या करें और क्या न करें की लिस्ट भेजते हुए इस पर तत्काल अमल करने की हिदायत दी गई है।

संचार क्रांति के बाद हाल के वर्षों में पुलिस से लेकर तमाम सरकारी महकमों में कंप्यूटर पर ही अधिकांश कार्य हो रहे हैं। ऐसे में बीते 13 मई को विभिन्न देशों में हुए साइबर हमले से उत्तराखंड की सरकारी मशीनरी और सुरक्षा एजेंसियों की चिंता बढ़ना भी लाजिमी है। फिलहाल अभी तक उत्तराखंड में रैनसमवेयर नाम से साइबर अटैक के कोई प्रमाण तो नहीं मिले हैं, लेकिन जिस तरह से साइबर हमले का दायरा बढ़ता जा रहा है उससे आने वाले दिनों में सूबे के हमले की जद में आने की संभावना से इंकार भी नहीं किया जा सकता है। 

एसएसपी एसटीएफ पी रेणुका देवी ने बताया कि हमने राज्य में इस हमले को रोकने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। सरकारी महकमों को पत्र लिखकर बताया गया है कि यदि उनके कंप्यूटर पर ‘उप्स, योर फाइल्स हैव बीन इनक्रिप्टेड’ कर मैसेज डिस्पले हो तो समझ जाएं कि उनका सिस्टम साइबर अटैक का शिकार हो चुका है। यह मैसेज आने पर तत्काल पुलिस के साइबर सेल या एसटीएफ को सूचना दें, ताकि हमले को आगे बढ़ने से रोका जा सके।

हमले से बचने को क्या करें

-सरकारी कंप्यूटर पर एनआइसी या जीओवी या विभागीय डोमेन की मेल का प्रयोग करें।

-एंटीवायरस अपडेट करते रहें, ईमेल अकांउट को प्रयोग के बाद लाग आउट कर दें।

-डाक्यूमेंट या फाइल को डाउनलोट करने से पहले स्कैन कर लें।

-सिस्टम का रिमोट डेस्कटॉप कनेक्शन हमेशा डिसेबल मोड में रखें।

क्या न करें

-गोपनीय डाटा जिस कंप्यूटर में संरक्षित हो, उसे इंटरनेट से कनेक्ट न करें।

-सरकारी कंप्यूटर पर मूवी, सांग डाउनलोड न करें।

-पासवर्ड परिवर्तित करते समय कभी पुराना पासवर्ड उपयोग न करें।

-स्मार्ट फोन को संवेदनशील डाटा वाले कंप्यूटर से कनेक्ट न करें।

-ईमेल से अवांछनीय लिंक मिलने पर क्लिक न करें।

-ट्रू-कॉलर को मोबाइल या कंप्यूटर में डाउनलोड न करें।

Ransomware WannaCry to attack Indian banking system soon

​Despite downplay of rasomware WannaCry`s impact by the Centre; IT experts have cautioned users that the number of effected organizations is expectedly to rise rapidly.



Bengaluru: Despite downplay of rasomware WannaCry`s impact by the Centre; IT experts have cautioned users that the number of effected organizations is expectedly to rise rapidly.

“There are so many states that have been affected.

The first thing that they are not doing is checking what systems have been affected,” Subhamangala, Cyber Security expert told ANI.

Experts are suspecting that the next wave of attacks will be subjected to the banking sector.”Our banks may be affected in a couple of hours. We are expecting it and have informed the banks, since most of our ATMs run on the windows operating system which is the operating system effected by WannaCry,” Subhamangala added.

Experts have warned organizations, businesses and other sectors to take required precautions and update their systems.

WannaCry, the ransomware cyber attack that has affected computers worldwide has made its way to India, affecting states like West Bengal, Andhra Pradesh, Telangana, and Kerala.

The cyber attack has been deemed as the biggest in history even as IT specialists suggest that the cyber criminals responsible have not made much monetary benefits.